Skip to main content

RRB NTPC 2019| SET 4 |ONE LINER QUESTIONS|SSC MTS 2019,RRB GROUP D 2019|...



https://youtu.be/Vxf6sPb0CBs

Comments


  1. I have read your article about RRB NTPC 2019| SET 4 |ONE LINER QUESTIONS|SSC MTS 2019,RRB GROUP D 2019|. and found it very interesting.

    I really appreciate your efforts.

    your article is Knowledgeable and easy to understand

    I have created a blog /website regarding Government Jobs/Vacancy updates /BLOGGING/Technology updates

    so please visit my blog
    Best website /blog for Latest jobs/Vacancy Updates (Advertisements) in 2020 for free

    Thanks
    Admin
    careerjobtech.com

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

B.sc करने के फायदे ? (हिंदी मे)

B.sc  करने के फायदे ? (हिंदी मे)
आजकल, जब 12 वीं क्लास पास करने के बाद ग्रेजुएशन लेवल पर कोई कोर्स चुनने का अवसर आता है तो अधिकांश छात्र इंजीनियरिंग या एमबीबीएस में से कोई एक कोर्स चुन लेते हैं. पिछले कुछ वर्षों से इन दोनों ही कोर्सेज में विकास के काफी अवसर उपलब्ध रहे हैं. इसलिए, भारत में टॉप इंजीनियरिंग कॉलेजों और अच्छे कॉलेजों में लिमिटेड सीट्स होने के साथ ही एप्लिकेंट्स की बढ़ती हुई संख्या के कारण आजकल बड़ा सख्त कम्पटीशन देखने को मिल रहा है. इन सब बातों को ध्यान में रखकर अक्सर लोगों के मन में यह सवाल उठता है कि, ‘क्या बीएससी (बैचलर ऑफ़ साइंस) कोर्स ने अब अपनी लोकप्रियता खो दी है?’

आप ये आर्टिकल futuremaker999.com पर पड़ रहे है।
ऐसी बात नहीं है. आज भी अधिकांश स्टूडेंट्स किसी साधारण कॉलेज से इंजीनियरिंग या एमबीबीएस कोर्स करने के बजाय किसी अच्छी यूनिवर्सिटी से बीएससी कोर्स करना पसंद करते हैं. बीएससी कोर्स करने के अपने फायदे हैं. लेकिन, इससे संबद्ध केवल एक समस्या है और वह यह है कि विभिन्न कॉलेज और यूनिवर्सिटीज इन बीएससी कोर्सेज का ज्यादा विज्ञापन नहीं करते हैं. अक्सर छात्रों को यह नहीं पत…

B.com करने के फायदे(benefits of do the b.com);

B.com करने के फायदे(benefits of do the b.com)! कॉमर्स को हमेशा से एक ऐसी प्रोफेशनल फील्ड के रूप में जाना जाता रहा है, जिसमें करियर के कई आकर्षक अवसर होते हैं। मगर बीकॉम के ठीक बाद उपलब्‍ध करियर के अवसरों के चलते यह धारणा भी बन गई है कि कॉमर्स में हायर एजुकेशन का स्कोप बहुत सीमित है। मगर यह धारणा पूरी तरह गलत है। बीकॉम करने के बाद आगे पढ़ाई के ढेरों विकल्प मौजूद हैं। एक नजर डालते हैं ऐसे ही कुछ प्रमुख विकल्पों पर। बैंकिंग व बीमा बीकॉम के बाद बैंकिंग तथा बीमा के क्षेत्र में भी पढ़ाई कर करियर बनाया जा सकता है। पोस्ट ग्रेजुएट स्तर पर ऐसे स्पेशलाइज्ड अकेडेमिक प्रोग्राम हैं, जो विद्यार्थियों को इन क्षेत्रों की बेसिक्स का प्रशिक्षण देते हैं। इनमें प्रमुख हैं बैंकिंग एंड इंश्योरेंस में स्पेशलाइजेशन के साथ एमकॉम, बैंकिंग में स्पेशलाइजेशन के साथ एमबीए, इंश्योरेंस में स्पेशलाइजेशन के साथ एमबीए आदि। बैंकिंग और बीमा से जुड़े अध‍िकांश पोस्ट ग्रेजुएट स्तर के प्रोग्राम्स में सब-स्पेशलाइजेशन के भी कई विकल्प होते हैं।मार्केटिंग आम तौर पर मार्केटिंग को ‘जनरलिस्ट” फील्ड समझा जाता है, जिसमें किसी भी पृष्ठभूम…